मसूरी – कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज और मंत्री गणेश जोशी ने हिमालयन कार रैली को किया झंडी दिखा रवाना।

मसूरी : नाजिर हुसैन स्मृति ड्राइव हिमालयन कार रैली को मसूरी से प्रदेश के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज व सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी, वैलकम होटल द सवॉय के एमडी किशोर काया व रैली के संयोजक राजन सयाल ने झंडी दिखाकर हिमाचल के लिए रवाना किया।
रैली को रवाना करने के बाद प्रदेश के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि यह बड़ा महत्वपूर्ण इवेंट है इसके लिए मुख्यमंत्री ने भी बधाई दी है। उन्होंने कहा कि यह 1981 में हिमालयन कार रैली शुरू की गई थी जो अब इसके संस्थापक नाजिर हुसैन की याद में हिमालयन कार रैली का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस रैली से उत्तराखंड के पर्यटन को बहुत लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि रैली शीतकाल में होती है जिससे यहां के ऑफ सीजन में लोगों को लाभ मिलेगा। क्यों कि यहां के प्राकृतिक सौंदर्य, नदी नाले, हिमालय, को निहारेंगे जिससे पर्यटन बढेगा। उन्होंने कहा कि कई जगह रोड खराब है लेकिन उन रोड़ों की मरम्मत की जा रही है लेकिन जिस रूट से रैली आयी वह अच्छी थी। इस बार बरसात अधिक होने से बहुत सारी रोडज्ञ़े क्षतिग्रस्त हुई हैं जिनकी मरम्मत करवाई जा रही है। उन्होंने इस मौके पर वैलकम होटल द सवॉय के प्रबंधन व एमडी किशोर काया का भी आभार व्यक्त किया जिन्होंने सहयोग किया।
इस मौके पर प्रदेश के सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि यह रैली पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए यह मील का पत्थर साबित होगी। उन्होंने कहा कि अब कोरोना का खतरा कम हो गया है जिससे राहत मिली है और अब इससे पर्यटन को बढावा मिलेगा खास कर ऐसे आयोजन उत्तराखंड की आर्थिकी को मजबूत करेंगे।
इस मौके पर रैली के संयोजक राजन सयाल ने कहा कि 40 साल बाद यह रैली शुरू की गई है। उन्होंने कहा कि इस रैली को लेकर लोगों में बड़ा उत्साह था जैसे ही पंजीकरण शुरू किया तो शीघ्र ही सौ से अधिक पंजीकरण हो गये जिस पर बंद करना पड़ा क्यों कि इतने की ही व्यवस्था की गई थी जिससे लोगों में निराशा हुई लेकिन अगले साल के लिए अभी से ही उन्होंने रैली में जाने को कहा है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड बहुत खूबसूरत है यहां आकर लोग बहुत खुश हुए हैं और अगली बार आने का अभी से मन बना लिया है। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड सरकार का भी पूरा सहयोग मिला है खुद दो मंत्री यहां आये है व पूरे सहयोग का भरोसा दिया है और रैली सफलता की ओर बढ रही है।
इस मौके पर मौजूद होटल सवॉय के एमडी किशोर काया की पुत्री व निदेशक निकी गुप्ता ने कहा कि होटल सवॉय को गर्व हो रहा है कि एक बार चालीस साल बाद पुनः हिमालयन कार रैली को होस्ट करने का अवसर मिला है। उन्होंने कहा कि इस रैली का उददेश्य देश विदेश के लोगों को उत्तराखंड के गौरवमयी इतिहास से अवगत कराना व दूसरा पर्यटन को बढ़ावा देना है। उन्होंने कहा कि कई लोगों को मसूरी के बारे में जानकारी नहीं थी व जब यहां आये तो यहां की सुदंरता से मुग्ध हो गये व कहा कि वह यहां के प्राकृतिक सौदर्य का आनंद लेने दुबारा जरूर आयेंगे।
रैली का संचालन करने वाले टीम फायर फाक्स के राजीव राय ने बताया कि यह रैली नोएडा से रैली शुरू हुई वहां से कोटद्वार, लैंसडान, सतपुली, हंसफाउंडेशन होते हुए जागधार आये वहां से टिहरी डाम देवप्रयाग धनोल्टी होते हुए मसूरी पहुंचे। रैली का उददेश्य कोविड के बाद पर्यटन को बढावा देना है। भारत में पर्यटन बढ़े। उन्होंने कहा कि इंडिया में जो देखने व करने को है पूरे विश्व में कही नहीं मिलेगा। इस रैली में तीन तीन करोड़ की गाड़िया है जो लोग कभी भारत में नहीं घूमते थे विदेशों में जाते थे इस रैली से उत्तराखंड को देखा तो विदेश भूल गये व कहने लगे कि यहां तो विदेश से भी अच्छा प्राकृतिक सौंदर्य है इस इवेंट के बाद उनकी आंखे खुली हैं कि पहाड़ों पर भी ऐसे होटल खुले हैं जिसकी कल्पना नहीं कर सकते। लैेंसडॉन जैसे छोटे शहर में बहुत सुंदर होटल खुलें हैं पहली बार वह ऐसे सुंदर होटल को देख रहे है। पहले लोग मनाली शिमला जाते थे उत्तरांखड का इतना पता नहीं था लेकिन अब उन्हें पता चल गया है। उन्होंने कहा कि इस रैली के बाद निश्चित ही उत्तराखंड का पर्यटन बढे़गा। उन्होंने बताया कि इस रैली में 280 लोग 105 वाहनों से प्रतिभाग कर रहे हैं जिसमें 92 रैली में व बाकी स्टॉफ कारें हैं। उन्होंने बताया कि रैली में विदेश से भी प्रतिभाग करने आये हैं वहीं कीनिया व बेल्जियम से आये हैं बाकी देशों इंग्लैड आदि से नहीं आ पाये उनका बीजा की समस्या हो गई थी लेकिन अगले साल वह जरूर आयेंगे उन्होंने अभी से ही तय कर लिया है। क्योंकि वह हमने जो सरवर शुरू किया है जिसमें उनके मेैसेज आ रहे है सोशल मीडिया पर जो फोटो देख रहे हैें व अभी से फोन कर रहे हैं अगले साल आने के लिए। उन्होंने कहा कि इस रैली से सुंदर उत्तराखंड सुरक्षित उत्तराखंड का संदेश भी जायेगा। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड इंनचाइंडिग पैलेस है। यहां पर फलोरा फोना, वाइल्ड लाइफ, वन, नदियां मां गंगा, चार धाम, व पूरा महाभारत यहां हुआ है उसका अपना महत्व है। उन्होंने कहा कि हिमालयन कार रैली मसूरी से केम्पटी, हर्बर्टपुर, पांवटा साहिब होते हुए हिमाचल में प्रवेश करेगी।
रैली में प्रतिभाग कर रहे विनय राय ने कहा कि उत्तराखंड बहुत खूबसूरत है और यहा की सरकार ने बहुत सहयोग किया है। वहीं हिमाचल सरकार की इसी तरह सहयोग कर रही है। अब मसूरी से कुफरी जायेंगे वहां से रोहतांग पास व वापस मनाली में रैली समाप्त होगी। मुंबई से आये मनीष ने बताया कि वह पहली बार रैली में आये है बहुत अच्छा लग रहा है व पूरा इंज्वाय कर रहे हैं। इस रैली से बहुत कुछ सीखने को मिला है व बहुत खूबसूरत दृश्य देखने को मिले हैं व गाड़ी चलाने में अलग ही तरह का आनंद आ रहा है। 
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल