कैबिनेट मंत्री उनियाल ने NH, PMGSY और PWD के अधिकारियों की ली बैठक, NH94 का किया निरीक्षण।

नई टिहरी : शनिवार देर सायं प्रदेश के कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने नरेंद्रनगर स्थित तहसील सभगार में राष्ट्रीय राजमार्ग, पीएमजीएसवाई व लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों की बैठक ली। इसके उपरान्त उन्होंने राष्ट्रीय राजमार्ग-94 का निरीक्षण किया।
कृषि मंत्री ने बैठक में एनएच व बीआरओ के अधिकारियों को निर्देश दिए कि राष्ट्रीय राजमार्ग-94 के चौड़ीकरण से क्षतिग्रस्त लोनिवि, पीएमजीएसवाई, पेयजल, जल संस्थान व सिंचाई विभाग की परिसंपत्तियों को प्राथमिकता के आधार पर दुरुस्थ करना सुनिश्चित करें। इसके साथ ही राष्ट्रीय राजमार्गों पर खतरे की जद में आ चुके भवनों की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करें। स्पष्ट किया कि एनएच पर किसी भी जानमाल की क्षति के लिए संबंधित विभाग /संस्था की जवाबदेही तय करते हुए थाने में प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। बैठक में बताया गया कि राष्ट्रीय राजमार्ग-94 से लोनिवि की 8 सड़कें क्षतिग्रस्त /प्रभावित हुई है। जबकि पीएमजीएसवाई की सोनी-भेंसर्क मोटर मार्ग पर 100 मीटर का पेच प्रभवित/क्षतिग्रस्त हुआ है। एनएच पर बने डंपिंग जोन की सुरक्षा न होने के कारण कई ग्रामीणों की कृषि भूमि व परिसंपत्तियों की क्षति होना बताया गया। जिसपर कृषि मंत्री ने बीआरओ के अधिकारियों को 15 दिन के भीतर संबंधित ठेकेदारों की बैठक आहूत करते हुए लिए जाने वाले निर्णयों की रिपोर्ट जिलाधिकारी को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए है। साथ ही विभिन्न विभागों की परिसंपत्तियों की क्षति को लेकर लोनिवि, पीएमजीएसवाई, पेयजल, विद्युत, जल संस्थान, लघु सिंचाई, बीआरओ व एनएच के अधिकारियों की एक संयुक्त बैठक आहूत करने के निर्देश उपजिलाधिकारी नरेंद्रनगर को दिए है। उन्होंने एनएच, लोनिवि, बीआरओ व राजस्व विभग की एक संयुक्त टीम को जाजल-व्यासी बागोड़ी मोटर मार्ग के निरीक्षण के भी निर्देश दिए है।


एनएच-94 के निरीक्षण के दौरान उन्होंने खतरे की जद में आ रहे मकानों की सुरक्षा दीवारों की ऊंचाई बढ़ाने व पैदल पहुँच मार्ग को प्राथमिकता से दुरुस्थ करने के निर्देश दिए है। उन्होंने काला पहाड़ नामे तोक डंपिंग जोन से शरिग्रस्त पेयजल लाइन को प्राथमिकता के आधार पर दुरुस्थ करने के निर्देश दिए है। वहीं ग्राम पंचायत भेंतन की शतिग्रस्त पेयजल लाइन व पहुंच मार्ग को अबतक दूरस्थ नहीं करने पर बीआरओ के अधिकारियों को कड़ी फटकार लगाई। इसके अलावा उन्होंने भिन्नु में बने नारदाने की को चौड़ा करने, बैमुंडा व जाजल में डंपिंग जोन की सुरक्षा सुनिश्चित करने, खाड़ी पिपलेथ मोटर मार्ग की सुरक्षा सुनिश्चित किये जाने व एनएच पर लटकते पत्थरो व मलवे को प्राथमिकता के आधार पर हटाने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए है।
मौके पर जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव, उपजिलाधिकारी युक्ता मिश्र, प्रमुख नरेंद्रनगर राजेन्द्र भंडारी, नगर पालिकाध्यक्ष नरेंद्रनगर राजेन्द्र विक्रम सिंह पंवार, राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिशासी अभियंता सौरभ सिंह व बल्लभ मिश्रा, अधिशासी अभियंता लोनिवि मोहम्मद आरिफ खान, बीडीओ जयन्द्र राणा के अलावा, पीएमजीएसवाई, पेयजल विभाग के अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल