MDDA के अधिकारियों के खिलाफ प्रदर्शन, अवैध भवनों के जांच की मांग।

मसूरी : मसूरी के विभिन्न संगठनों ने एमडीडीए कार्यालय लंढौर रोड पर एमडीडीए के खिलाफ प्रदर्शन किया व मांग की कि एमडीडीए के भ्रष्ट सहायक अभियंता अभिषेक भारद्वाज को तत्काल प्रभाव से हटाया जाय व मसूरी में हो रहे अवैध कार्याें की जांच कर कड़ी कार्रवाई की जाय।
बड़ी संख्या में विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधि एमडीडीए कार्यालय लंढौर कार पार्किंग पर एकत्र हुए और वहां पर एमडीडीए के खिलाफ जोरदार नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन किया। वहीं कहा गया कि अगर शीघ्र एमडीडीए के सहायक अभियंता को यहां से न हटाया गया तो एमडीडीए कार्यालय में तालाबंदी की जायेगी। इस मौके पर आम आदमी पार्टी के जिला प्रवक्ता प्रकाश राणा ने कहा कि यह कोई राजनैतिक मामला नहीं है यह आम जनता से जुड़ा मामला है क्योंकि एमडीडीए लगातार गरीबों के दो कमरे बना रहे हैं उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है व बड़े निर्माणों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है जिससे आम नागरिक परेशान है। उन्होंने कहा कि एमडीडीए गत चालीस वर्षों में ऐसा कोई प्रावधान या मास्टर प्लान नहीं लाया गया। जबकि एमडीडीए के सहायक अभियंता लगातार मसूरी में गरीबों के मकान सील कर रहे हैं और बड़े अवैध निर्माण किए जा रहे हैं जबकि लगातार एमडीडीए के अधिकारियों को फोन, व्हाइटस एप के माध्यम से सूचना दी जाती रही है लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की। हाल ही में मालरोड पर एसडीएम कार्यालय के समीप एक होटल ग्रीन कैसल जो वाले ने बेसमेंट खोल दिया व उस पर अवैध निर्माण कर कैफिटेरिया खोल दिया जिसकी लगातार शिकायत की गई लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की गई इसी तरह मसूरी के कई क्षेत्रों में अवैध निर्माण जारी है अनेक अवैध निर्माण है,ं लेकिन उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई। सामाजिक कार्यकर्ता तनमीत खालसा ने कहा कि एमडीडीए की नीति है गरीब का मकान तोड़ो व अमीरों के मकान अवैध रूप से बनाओ। इस नीति का विरोध किया जायेगा। एमडीडीए ने मसूरी के कोई विकास नहीं किया बल्कि विनाश किया है न ही मसूरी में कोई आवासीय कालोनी बनाई है। मसूरी में अधिकतर होटल कई मंजिला बन गये है जबकि यहां पर तीन मंजिल से अधिक नहीं बन सकता ऐ कैसे बने इसका जबाब एमडीडीए को देना चाहिए। यह भ्रष्टाचार का गढ बन चुका है इसलिए एमडीडीए को यहंा से विदा करना चाहिए। नफीसा बानो ने कहा कि एक गरीब आदमी अपनी कड़ी मेहनत से अपना एक कमरा बनाता है तो एमडीडीए उसे तोड़ देता है या सील कर देता है लेकिन दूसरी ओर मसूरी में बहुमंजिला भवन नियमों को ताकपर रखकर बनाये जो रहे हैं इसमें सहायक अभियंता अभिषेक भारद्वाज को यहां से तत्काल हटाया जाय। मसूरी होटल एंव रेस्टोरेंट कर्मचारी यूनियन के अध्यक्ष सोबन सिंह पंवार ने भी एमडीडीए के भ्रष्टाचार के खिलाफ अपने विचार व्यक्त किए व कहाकि की यह विभाग सबसे अधिक भ्रष्ट है जिसमें उनके अधिकारी भारद्वाज ने तो सारी सीमाएं लांघ दी। और इसी पीड़ा से त्रस्त लोगों ने यहां पर धरना प्रदर्शन किया ताकि उनकी आवाज सरकार तक पहुचे व मसूरी में अवैध निर्माणों की जांच हो व उन पर कार्रवाई के साथ ही इसमें लिप्त अधिकारियों पर कड़ी कार्रवाई की जाय। प्रदर्शन के बाद प्रदेश के मुख्यमंत्री को एसडीएम के माध्यम से ज्ञापन दिया गया जिसमें एमडीडीए के भ्रष्ट अधिकारी को हटाने की मांग के साथ ही मसूरी में हो रहे अवैध मिर्माण की जांच की भी मांग की गई।

मौके पर सुनील पंवार, हरपाल खत्री, विजय रौंछेला, सुमित दयाल, असलम खान, प्रियंका कोहली, प्रेम सिंह, गोविंद सिंह, अमरदेव, पूरन सिंह, तहमीना खान, रणवीर पंवार, मोहन नौटियाल, राकेश शाह, पंकज पंत, सहित बड़ी संख्या में विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल