DM ने ग्राम्य विकास कार्यक्रम के तहत अधिकारीयों की बैठक ली, खंड विकास अधिकारीयों को सरकारी योजनाओं के सबंध में दिये जरूरी निर्देश।

अरविन्द थपलियाल

उत्तरकाशी : जिलाधिकारी अभिषेक रुहेला ने मंगलवार को जिला सभागार में ग्राम्य विकास विभाग के कार्यक्रम व योजनाओं की समीक्षा करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद के विकासात्मक कार्यों एवं दूर दराज इलाकों में सरकार की योजनाओं को धरातलीय स्वरूप प्रदान करने के लिए ग्राम्य विकास विभाग की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। जिलाधिकारी ने मुख्य विकास अधिकारी को निर्देशित किया कि विकासात्मक कार्यों को गति प्रदान करने के लिए सभी खंड विकास अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की जाय।
जिलाधिकारी ने मनरेगा कार्यो की समीक्षा की और दिव्यांगजनों को भी रोजगार से जोड़ने के निर्देश बीडीओ को दिए। उन्होंने कहा कि मनरेगा के अंर्तगत जिन दिव्यांगजनों का पंजीकरण किया गया उन्हें सुलभता से रोजगार प्रदान कराया जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि 912 दिव्यांग के सापेक्ष 266 दिव्यांगजनों को रोजगार दिया गया। अवशेष सभी दिव्यांगों को रोजगार मुहैया कराया जाय। जिलाधिकारी ने मनरेगा के अंर्तगत अपूर्ण कार्यों को भी तेजी से पूर्ण करने के निर्देश दिए। साथ ही काम पूरा करने के बाद तेजी के साथ जिओ टैग कराने के भी सख्त निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने सभी बीडीओ को मनरेगा कार्यपूर्ति में भी सुधार लाने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने मोबाइल मॉनिटरिंग एप की भी समीक्षा की। मनरेगा में लंबित भुगतान का निस्तारण नही करने पर कम्प्यूटर प्रोग्रामर को चेतावनी जारी करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने अमृत सरोवर की समीक्षा करते हुए अवशेष 18 अमृत सरोवरों को शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए। ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण पर विकास खंड नौगांव, डुंडा और भटवाड़ी द्वारा अपेक्षाकृत प्रगति नही की गई है। जिस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए उक्त सभी खंड विकास अधिकारियों को एक सप्ताह के भीतर पंजीकरण में सुधार लाने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने मेरा गांव मेरी सड़क योजना की भी समीक्षा की। सभी बीडीओ को मेरा गांव मेरी सड़क के अंर्तगत निर्माणाधीन सड़क मार्ग के कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए। निर्माणाधीन सड़क मार्ग भटाणु, सिंगोठ, मल्ली, कवाड़ी, सट्टा, दूणी, भीतरी, डांडा गांव, फिताड़ी को माह नवम्बर तक पूर्ण करने के सख्त निर्देश दिए। प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने अधूरे 150 आवासों को शीघ्र पूर्ण कराने के निर्देश बीडीओ को दिए। जिलाधिकारी ने एनआरएलएम,बीएडीपी आदि योजनाओं की भी गहनता से समीक्षा की।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी गौरव कुमार सहित समस्त खंड विकास अधिकारी एवं अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल