श्री एथनिक इंडिया मॉरीशस का भगवान शंकर आश्रम मसूरी में विलय।

मसूरी : दक्षिणी अफ्रीकी देश मॉरीशस में सक्रिय श्री एथनिक इंडिया संस्था का शरद पूर्णिमा के अवसर पर आर्यम इंटरनेशनल फाउंडेशन मसूरी द्वारा संचालित भगवान शंकर आश्रम में विलय हो गया। वर्ष 2012 से संचालित मॉरीशस आश्रम अब भगवान शंकर आश्रय के नाम से जाना जाएगा। इस अवसर श्री विष्णु सहस्रनाम और त्रिपुरभैरवी पाठ के साथ पुष्प अर्चन किया गया। जिसमें मॉरीशस के अनेक भक्तों ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया।
ट्रस्ट की अधिशासी प्रवक्ता माँ यामिनी श्री ने बताया कि फ़ाउंडेशन के प्रमुख और आश्रम के मुख्य अधिष्ठाता परमप्रज्ञ जगद्ग़ुरु प्रोफ़ेसर पुष्पेन्द्र कुमार आर्यम जी महाराज स्वयं इस अवसर पर मॉरीशस पधारे। उन्हीं के सानिध्य और आशीष के साथ समस्त सत्र संपन्न हुए। ज्ञातव्य हो कि पूज्य गुरुदेव श्री आर्यम जी महाराज ने अपने पहले आश्रम की स्थापना 11 वर्ष पूर्व मॉरीशस में ही की थी। तब इसका नाम श्री एथनिक इंडिया रखा गया था। लेकिन अब यह भी भगवान शंकर आश्रम की शाखा के रूप में जाना जाएगा। इस अवसर पर पूर्व संस्था के सभी पदाधिकारियों ने एक सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किया। अब सभी गतिविधियाँ भगवान शंकर आश्रम मसूरी से ही नियंत्रित और संचालित होंगी। आश्रम के सक्रिय सहयोग से फ़्रांस अधिकृत रीयूनियन, मेडागास्कर, केपटाऊन, जॉनसबर्ग, डरबन,शेशल्स, रोड्रिक्स आदि में पहले से जुड़े साथियों को लाभ प्राप्त होगा। फ़ाउंडेशन शीघ्र ही भारत की प्राच्य विद्याओं पर आधारित शिक्षा प्रदान करने के लिए एक यूनिवर्सिटी मॉरीशस में खोलेने के प्रति गंभीर है। इस संबंध में कार्यवाही चल रही है। वहीं वर्ष के अंतिम चंद्रग्रहण से पूर्व श्री विष्णु सहस्रनाम और त्रिपुरभैरवी पाठ के साथ भव्य पुष्प अर्चन और वैदिक मंत्रोच्चार से मॉरीशस गूंज उठा। इस अवसर पर आश्रम के स्थानीय संयोजक नवीन कोसी, प्रिया कोसी, गिरीशा देवी, भगवंती कोसी, किरण नारायण, वीमा बाई, रितिशा बाई, शिखा,नितिन, सवीना, निखिल, सर्वेश्वर, एशा, यजनेश, अनीता,रणजीत, आदि लगभग 100 भक्तों ने उपस्थित होकर पूज्य गुरुदेव का आशीर्वाद प्राप्त किया।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल