मंत्री गणेश जोशी ने डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती पर उन्हें श्रृद्धासुमन अर्पित किये।

देहरादून : कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने आज भारतीय जनसंघ के संस्थापक एवं राजनीतिक चिंतक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी की जयंती के अवसर पर कैंप कार्यालय हाथीबड़कला देहरादून में आयोजित पुष्पांजलि एवं गोष्ठी कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। मंत्री गणेश जोशी ने डॉ मुखर्जी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजली अर्पित की।
इस अवसर पर मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी का पूरा जीवन राष्ट्र की एकता और अखंडता को समर्पित रहा। वे अपने सिद्धांतों से कभी पीछे नहीं हटे । उनका राजनीति और शिक्षा के क्षेत्र में अहम योगदान रहा है। डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी, अखंड और एक भारत के लिए कश्मीर को देश की मुख्यधारा में लाना चाहते थे। उन्होंने एक निशान, एक विधान और एक प्रधान का मत रखा था। उन्होंने कहा वो महान विचारक दार्शनिक के साथ ही एक महान शिक्षक और राष्ट्रभक्त थे। मंत्री ने कहा उन्हीं के पद चिन्हों पर चलते हुए केंद्र सरकार ने जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाकर एक देश एक निशान एक विधान के सिद्धांत को साकार किया। उन्होंने भरोसा जताते हुए कहा और सभी को संकल्प लेने का आवाहन करते हुए कहा जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाने के बाद पीओके भी हमारा होगा। उन्होंने कहा भारत माता के लिए उनका संकल्प और विचार हम सभी के लिए अनुकरणीय है। राष्ट्रहित के प्रति उनका समर्पण सदैव हमें देशसेवा के लिए प्रेरित करता रहेगा।

इस अवसर पर रेशम फेडरेशन अध्यक्ष अजीत चौधरी, मंडल अध्यक्ष प्रदीप रावत, पूनम नौटियाल, निरंजन डोभाल, मंडल अध्यक्ष ज्योति कोटिया, संध्या थापा सहित बीजेपी पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *