मंत्री गणेश जोशी ने सैन्य धाम निर्माण कार्यों की धीमी गति पर अधिकारियों को लगाई फटकार, अधिकारियों को निर्माण कार्यों में तेजी लाने के दिए निर्देश।

देहरादून : सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी की अध्यक्षता में देहरादून के कालीदास मार्ग स्थित सैनिक कल्याण निदेशालय में देहरादून के गुनियालगांव में बनने जा रहे सैन्यधाम निर्माण तथा शौर्य दिवस की तैयारियों के संबंध में बैठक की गई। बैठक में सैनिक कल्याण विभाग के अधिकारियों सहित निर्माण से सम्बन्धित सभी अधिकारिगण उपस्थित रहे। बैठक में मंत्री जोशी ने शौर्य दिवस की तैयारियों को लेकर अधिकारियों से जानकारी ली।जिसमे अधिकारियों द्वारा मंत्री जोशी को अवगत कराया गया की प्रदेश भर में शौर्य दिवस मानने को दिशा में कार्य तेजी से चल रहा है।मंत्री जोशी ने कहा कि शहीदों का सम्मान करना हमारा कर्तव्य है ।शौर्य दिवस के मुख्य कार्यक्रम का आयोजन राजधानी देहरादून में आयोजित किया जाएगा। मंत्री जोशी ने शौर्य दिवस की तैयारियों को लेकर अधिकारियों को अधिक से अधिक प्रचार प्रसार करने के निर्देश दिए। मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि शौर्य दिवस पूरे प्रदेशभर में बड़े धूम धाम के साथ मनाया जायेगा।


वहीं सैन्य धाम निर्माण कार्यों को लेकर बैठक में सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने सैन्यधाम निर्माण की धीमी प्रगति से सैनिक कल्याण मंत्री असंतुष्ट नजर आए। सैन्य धाम के निर्माण कार्यों की धीमी गति को लेकर मंत्री गणेश जोशी ने आधिकारियों को फटकार लगाते हुए कहा कि कहा कि यह राज्य सरकार का महत्पूर्ण प्रोजेक्ट है, जिसकी रिपोर्टिंग भारत सरकार को भी की जा रही है. सैन्यधाम वीरभूमि उत्तराखंड की संवेदनाओं से सीधा जुड़ा है. इसलिए निर्माण कार्यों में किसी भी प्रकार की लापरवाही बिल्कुल भी बर्दास्त नही की जायेगी।
मंत्री जोशी ने सैन्य धाम निर्माण कार्यों में तेजी लाने के अधिकारियों को निर्देश दिए,इसके अलावा डीएम देहरादून को सैन्य धाम निर्माण कार्य स्थल के विजिट करने के निर्देश दिए। साथ ही डीएम देहरादून को सोमवार को एक बैठक आहूत करने के भी निर्देश दिए, बैठक में मंत्री जोशी ने संबंधित विभागों को बेहतर आपसी समन्वय कर सभी विषयों के त्वरित समाधान निकालने हेतु निर्देशित किया है.इसके अलावा पहुंच मार्ग और भूमि से संबंधित समस्त मामलों पर भी चर्चा की गई. बैठक में मंत्री जोशी ने कहा कि सैन्य बाहुल्य प्रदेश के लिए सैन्यधाम का निमार्ण जनभावनाओं और राज्य के शौर्य का प्रतीक है। सैन्य धाम के निर्माण कार्यों में किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

इस अवसर पर अपर सचिव धर्मसत्तु, ज़िलाधिकारी सोनिका, निदेशक आरएस रावत, उप निदेशक कर्नल एमएस जोधा, कर्नल आर एल थापा, संयुक्त सचिव सुनील सिंह सहित कई अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल