मेरे खिलाफ किया जा रहा हैं भ्रमक प्रचार – पालिकाध्यक्ष।

अरविन्द थपलियाल

उत्तरकाशी : पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया के माध्यम से उत्तरकाशी में कुछ तथाकथित लोगों द्वारा बढ़-चढ़कर उत्तरकाशी पालिका को लेकर भ्रमक प्रचार किया जा रहा हैं। इनसब बात को सत्य कहलाने को लेकर वो मीडिया का सहारा भी जमकर लेकर है। अपनी बात को सत्य कहलाने का भी प्रयास कर रहे हैं। जिसके चलते आज नगर पालिका में सोशियल मीडिया के उनसभी आरोपों का खंडन करते हुए, प्रेसवार्ता की। इस वार्ता में मेरे द्वारा पिछले 4 वर्ष के कार्यकाल में हुए विकास कार्यों का ब्यौरा प्रस्तुत किया। साथ ही केदारघाट पर पालिका द्वारा बनाए जारहे स्टोर को लेकर तमाम तरह की कागजी दस्तावेज मीडिया के समकक्ष प्रस्तुति किये। स्टोर बनाने को लेकर टेंडर प्रक्रिया जिलाधिकारी उत्तरकाशी, एसडीएम भटवाड़ी, सचिव जिला प्राधिकरण को लिखित सूचना के साथ पालिका द्वारा टेंडर की पूर्ण जानकारी दिगयी। जिलाप्रशासन की पूर्ण सहमति के बाद ही पालिका ने स्टोर बनाने के कार्य प्रारम्भ किया। उत्तरकाशी नगर के एक व्यक्ति ने सोशल मीडिया में इस बात को “यदि” के आधार पर रखा, इस भूमि की क्रय रकम 80लाख बतायी।

काफी लंबे समय से कूड़े की समस्या से जूझ रहे उत्तरकाशी नगर की समस्या को लेकर कूड़ा सेग्रीगेशन सेंटर तिलोथ में निर्माण कार्य पालिका द्वारा किया गया। जिसकी प्रारंभिक धनराशि 1 करोड़ 27, लाख के लगभग थी। किंतु जिला प्रशासन द्वारा दूसरी बार कूड़े को लेकर भूमि पालिका को दी गयी। जिस पर पालिका द्वारा कार्य कर इसकी लागत 2 करोड़ 27 लाख लगभग की कार्य एम०बी० बनायी गयी। किन्तु इसका भुगतान प्रारम्भिक धन राशि के आधार पर किया गया है। इसे भी लेकर सोशल मीडिया पर खूब जमकर शहर को लूटने व शहर की जगह को मारने वाले लोगों द्वारा पालिका की छवी खराब करने का प्रयास किया गया।

57 लाख 61हजार 621 रुपए की धनराशि से जीरो वेस्ट की गाड़ियों तेल पालिका द्वारा भरे जाने वाली बात भी अनपढता के कारण सोशियल मीडिया में फैलायी गयी यह आरोप निराधार है। पालिका ने यह तेल पिछले चार वर्षों में पालिका के वाहन हाइड्रोलिक ट्रक, टेम्पो, व छिड़काव वाहनों के उपयोग में प्रयोग किया गया। covid 19 के दौरान पूर्ण लॉकडाउन के दौरान तमाम वाहनों का नगर को covid से बचाव हेतु कैमिकल छिड़काव, अलाउंस मेंट हेतु उपयोग पालिका द्वारा किया गया। इसके अलावा अन्य नगरों से जुड़े हुए क्षेत्रों में भी जिला प्रशासन के द्वारा पालिका के वाहनों का उपयोग किया। जिसके चलते तेल की लागत में इजाफा हुआ। किंतु यह सभी तेल पालिका की वाहनों पर पालिका द्वारा ही भरा गया है।


उन्होंने कहा की “मैं उत्तरकाशी की सम्मानित जनता का ध्यान इस ओर भी आकर्षित करना चाहता हूं कि आज से कुछ महा बाद नगर पालिका का चुनाव होने वाला है, जिसको लेकर तमाम तरह के लोग इन आरोपों का सहारा लेकर पूर्व में भी व वर्तमान में कार्य कर रहे है। इन कार्यों से वे जनता के विश्वास को ठेस पहुचायी जा रही है। साथ ही जनता के बीच में भ्रमण प्रचार करने से आप की पृष्ठभूमि स्पष्ट होती हुई दिखाई नहीं देती।”

जिला प्रशासन उत्तरकाशी का डंडा जिस दिन घूमेगा तो सरकारी संपत्ति की बिक्री पर कई सवाल उठेंगे और यह आरोप आपके गिरेबान को दागी आवश्यक करेंगे। आखिर कहां से बहुमंजिला भवन तैयार हुआ, ना कोई काम न कोई पद, उच्च पदों पर बैठने वाले कर्मचारी भी इतनी जल्दी इतनी तरक्की नही कर पाते जिनती तेजी खैर….. जब भवन का निर्माण कार्य का आरंभ इन भृमक प्रचारकों द्वारा शुरू किया गया तो नगर की नाली के ऊपर उन्होंने अपने भवन की नींव रख डाली जिसका जीता जागता सबूत आप सभी के समक्ष है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल