मसूरी – नेहरू जयंती पर कांग्रेस ने किया विचार मंथन बैठक का आयोजन।

मसूरी : शहर कांग्रेस ने देश के प्रथम प्रधानमंत्री पं. जवाहर लाल नेहरू की जयंती पर कांग्रेस भवन में आयोजित कार्यक्रम में उनके चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। वहीं देश के विकास में उनके योगदान को याद किया। वहीं पार्टी कार्यकर्ताओं ने आगामी विधानसभा चुनावों को देखते हुए पार्टी की एकता के लिए गंभीर विचार मंथंन किया।


शहर कांग्रेस कार्यालय में आयोजित बैठक में पहले पूर्व प्रधानमंत्री पं. जवाहर लाल नेहरू की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि देकर याद किया गया। इस मौके पर कार्यकर्ताओं की बैठक में पार्टी कार्यकर्ताओं को एक जुट करने व आगामी विधानसभा चुनावों को देखते हुए पूरी ताकत से चुनाव में प्रतिभाग करने के लिए जोश भरा गया। बैठक में वरिष्ठ कांग्रेस कार्यकर्ता रमेश कुमार ने कहा कि आज कांग्रेस अपनी दुर्दशा के लिए स्वयं जिम्मेदार है। क्योंकि चुनाव जीतने के बाद नेता अपने कार्यकर्ताओं का सम्मान नहीं करते जबकि वह कार्यकर्ता की उन्हें गददी पर बिठाता है व उनके लिए कड़ी मेहनत करता है, जनता के बीच जाकर उनकी गाली सुनता है लेकिन नेता बनने के बाद यही लोग कार्यकर्ताओं का सम्मान नहीं करते जिसके कारण कार्यकर्ता पार्टी से दूर होता जा रहा है। उन्होंने कहा कि एक समय में मसूरी में कांग्रेस के अलावा कोई दूसरा राजनैतिक दल नहीं होता था लेकिन आज कांग्रेस का नाम लेने वाला भी नहीं हैं। अभी भी समय है कि सभी अपने व्यक्तिगत हितों व स्वार्थो को छोड कर कार्य करे व आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा प्रत्याशी को करारी हार देने के साथ ही प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनाने में सहयोग करें। इस मौके पर वरिष्ठ नेता जय प्रकाश उत्तराखंडी ने कहा कि कार्यकर्ताओं ने इस बैठक में अपनी भावनाओं को व्यक्त किया क्योंकि उनकी पीड़ा है, उन्होंने कहा कि शहर कांग्रेस के बडे नेता नहीं आये उसका कारण वह बाहर हैं लेकिन अगली बैठक में वह आयेंगे लेकिन कार्यकर्ता बैठक में आये हैं और यहीं चुनाव जितायेंगे। वरिष्ठ नेता मेघ सिंह कंडारी ने कहा कि यह बैठक कांग्रेस को मजबूत करने के लिए आयोजित की गई है ताकि आपसी मतभेद व मनभेद मिटा कर कांग्रेस के लिए कार्य करें। उन्होंने कांग्रेस की गुटबाजी को नकार कर कहा कि कांग्रेस एक वैचारिक पार्टी है व्यक्तिगत रूप से कारण हो सकते हैं लेकिन मनभेद नहीं है। और आने वाले समय में कांग्रेस अपना वर्चस्व कायम करेगी। कार्यक्रम को महिला कांग्रेस अध्यक्ष जसबीर कौर, रमेश भंडारी सहित कई नेताओं ने सम्बोधित किया व आगामी विधानसभा चुनाव पर गहरा मंथंन किया व कार्यकर्ताओं का आहवान किया कि यह मौका है अगर इसे चूक गये तो कांग्रेस को कोई नहीं पूछेगा इसलिए सभी को एक साथ मिलकर विधानसभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी को जिताने के लिए कार्य करना हैं। बैठक की अध्यक्षता करते हुए वरिष्ठ कांग्रेस कार्यकर्ता राम प्रसाद कवि ने सभी कार्यकर्ताओं से अनुरोध किया कि आज तक जो हुआ उसे भूल कर जोश के साथ कांग्रेस को मजबूत करने को आगे आयें व आगामी विधानसभा चुनावों में अपनी ताकत दिखा कर यह साबित करें कि यह पुरानी कांग्रेस है। उन्होंने कहा कि आपसी मतभेद तो चलते रहेंगे लेकिन अगर कांग्रेस को मजबूत करना है तो छोटे मोटे कारणों को छोड़ कर नये सिरे से आगे बढना होगा।

बैठक में सुरेंद्र रावत, महेंश चंद, सुशील अग्रवाल, युवा कांग्रेस मसूरी विधानसभा अध्यक्ष वसीम खान, सोनिया सिंह, केदार चौहान, बीएस नेगी, कमल सिंह असवाल, गौरव गुप्ता, अक्षत कुमार, कामिल अली, राजीव अग्रवाल, सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद रहे।
कांग्रेस में एकता लाने व पार्टी को मजबूत करने के लिए आयोजित बैठक में वरिष्ठ कांग्रेस नेता नदारद रहे। जिसमें पूर्व विधायक जोत सिंह गुनसोला, पूर्व पालिकाध्यक्ष व प्रदेश कांग्रेस महामंत्री मनमोहन सिंह मल्ल, शहर कांग्रेस अध्यक्ष गौरव अग्रवाल सहित अनेक नेता नजर नहीं आये। हांलांकि आयोजन कर्ताओं का कहना था कि देहरादून में प. जवाहर लाल नेहरू के जन्म दिवस पर प्रदेश स्तरीय कार्यक्रम में शिरकत करने गये हैं लेकिन इनका इंतजार अगली बैठक में किया जायेगा।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल