मसूरी – मांगों को लेकर संविदा पर्यावरण मित्रों ने किया पालिका प्रांगण में प्रदर्शन।

मसूरी : नगर पालिका परिषद, मसूरी में पर्यावरण मित्रों ने अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन किया। इस दौरान पर्यावरण मित्रों ने जमकर नारेबाजी की और चेतावनी दी कि यदि एक सप्ताह के भीतर उनकी मांगे नहीं मानी गई तो पूरे शहर की सफाई व्यवस्था को ठप्प कर दिया जाएगा।

नगर पालिका प्रांगण में प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारियों का कहना है कि मुख्यमंत्री द्वारा घोषणा की गई थी कि पर्यावरण मित्रों को प्रति दिन पांच सौ रुपए मानदेय के हिसाब से दिया जाएगा, लेकिन नगर पालिका परिषद मसूरी में कार्यरत 130 पर्यावरण मित्रों को 270 रुपये प्रतिदिन मानदेय के हिसाब से दिया जाता है। जबकि उनके द्वारा नगर पालिका अध्यक्ष को पत्र भी दिया गया है कि पर्यावरण मित्रों को 500 प्रतिदिन के हिसाब से दिया जाए लेकिन नगरपालिका द्वारा अब तक इस पर कोई कार्यवाही नहीं की गई है और पर्यावरण मित्र लगातार मसूरी में सफाई व्यवस्था सुचारू बनाए रखने में कार्य कर रहे हैं। प्रदर्शनकारियों ने बताया कि कोरोना काल के दौरान भी पर्यावरण मित्रों ने अपनी जान हथेली पर रखकर शहर की सफाई व्यवस्था की थी और मसूरी स्वच्छता में उत्तराखंड में नंबर एक स्थान पर लाने में अहम भूमिका निभाई।

इस अवसर पर देवभूमि सफाई कर्मचारी संघ के जिला अध्यक्ष कृष्णा गोदियाल ने बताया कि इस संबंध में उनकी पालिका अध्यक्ष से भी वार्ता हुई है जिस पर उन्होंने आश्वासन दिया था कि 3 माह के भीतर पर्यावरण मित्रों का मानदेय बढ़ा दिया जाएगा लेकिन एक वर्ष होने पर भी उनका मानदेय नहीं बढ़ाया गया है। उन्होंने कहा कि यदि उनकी मांगे पूरी नहीं की गई तो वह धरना प्रदर्शन के लिए बाध्य होंगे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल