मसूरी – प्राइवेट संपत्तियों के नोटिफाइड व डिनोटिफाइड की सूची प्रकाशन को लेकर किया प्रदर्शन, दिया ज्ञापन।

मसूरी : महिला कांग्रेस मसूरी ने कचहरी में प्रदर्शन करने के बाद जिलाधिकारी को एसडीएम के माध्यम से ज्ञापन देकर मांग की कि शीघ्र ही मसूरी की प्राइवेट संपत्तियों को नोटिफाइड व डिनोटिफाइड करने की सूची प्रकाशित करें ताकि जनता की दुविधा समाप्त हो सके।


महिला कांग्रेस की कार्यकर्ता कड़ाके की सर्दी में कचहरी पहुंची व वहां पर प्रदर्शन किया व उप जिलाधिकारी के माध्यम से जिलाधिकारी को ज्ञापन प्रेषित किया। ज्ञापन में कहा गया है कि मसूरी में लगभग 216 प्राइवेट नोटिफाइड इस्टेट है जिसमें से 42 स्टेटों के नक्शे नगर पालिका के पास उपलवब्ध न होने के कारण इन स्टेटो का एमडीडीए एवं वन विभाग मसूरी ने करोड़ों रूपये खर्च कर सर्वे ऑफ इंडिया के माध्यम से सर्वे करवाया। लेकिन सर्वे करने के बाद भी इन इस्टेटों की नोटिफाइड व डिनोटिफाइड की सूची प्रकाशित नहीं की गई। जबकि एमडीडीए व वन विभाग ने वन विभाग के सर्वे की संयुक्त जांच कर एसडीएम मसूरी व जिलाधिकारी को रिपोर्ट सौंप दी। लेकिन जांच पूर्ण होने के बाद भी आज तक इन इस्टेटों पर निर्णय नहीं किया गया। कि कौन सी नोटिफाईड है और कौन सी संपत्ति डिनोटिफाइड है। जिसके कारण इन इस्टेटों के भूस्वामियों को अपनी संपत्ति पर नक्शे पास कराने के लिए भारी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही इन इस्टेटों में भूमि क्रय करने वालों को भी परेशानी हो रही है। जबकि ऐसी स्थिति से जो असुविधा व दुविधा हो रही है उसका निस्तारण व समाधान किया जाना जरूरी है। ज्ञापन में जिलाधिकारी से मांग की गई कि शीघ्र ही नोटिफाईड व डिनोटिफाइड प्राइवेट संपत्तियों की सूची प्रकाशित की जाय ताकि इस असंमंजस्य की स्थिति से निजात मिल सके। ज्ञापन देने वालों में सोनिका सिंह, आशा, कमला, रीता, सुलोचना, अंकिता, कलावती, बिमला, तुलसी, सुमन आदि कार्यकर्ता मौजूद रही।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *