मसूरी – LBSNAA के निदेशक ने किया आजादी में चित्रकारों के योगदान पर आयोजित प्रदर्शनी का उदघाटन।

मसूरी : वीआर आर्ट स्पेस के तत्वाधान में आजादी के अमृत महोत्सव के तहत 9 अगस्त से 19 सितंबर तक आजादी के आंदोलन में चित्रकला का योगदान विषय पर आयोजित प्रदर्शनी का उदघाटन लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक अकादमी के निदेशक श्रीनिवास आर कतिकिथाला ने दीप प्रज्वलित कर किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि आजादी का 75वां साल भारत के लिए अति महत्वपूर्ण है, यहां पर जो चित्रों की प्रदर्शनी लगी है इसमें बहुत पुरानी पेंटिंग है, जिसमें रवीद्रनाथ टैगोर, गांधी, नेहरू, सरदार बल्लभ भाई पटेल सहित अनेक हैं, वहीं व्यावसायिक आर्ट की पेंटिंग भी है जिसने आजादी के आंदोलन में योगदान दिया उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही है क्यों कि यहीं माध्यम घर घर तक आजादी का संदेश पहुचाने का रहा। इस प्रदर्शनी से हम प्रेरणा लेंगे वहीं जो भी प्रदर्शनी देखने आयेगा वह भी प्रेरणा लेगा। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, व भारत सरकार अमृत उत्सव में में हर घर तिरंगा को केपेंन चलाया जा रहा है उससे देश प्रेम की भावना जो हर व्यक्ति में है उसे बाहर लाया जा रहा है। इससे हमारे अंदर जो देश व समाज की जो सेवा भावना होनी चाहिए उसे देश के उत्थान व विकास के साथ जोड़ने का प्रयास है। यह आगामी 25 वर्ष तक देश को विश्व गुरू का स्थान दिलाने में योगदान देगा।

इस मौके पर प्रदर्शनी की संचालिका सुरभि अग्रवाल ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव में यह प्रदर्शनी लगायी गई है ताकि लोग यह समझ सकें कि आजादी के आंदोलन में जहां अन्य लोगों की भूमिका रही है वहीं आर्ट की भी अहम भूमिका रही है। उन्होंने कहा कि आजादी के आंदोलन में सभी के सहयोग की बात की जाती है लेकिन आर्ट के योगदान के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं। इस लिए प्रयास किया गया कि आर्ट के माध्यम से आजादी में दिए गये योगदान को जनता के सामने लाया जाय इसके लिए बड़ी रिसर्च की गई कई दुलर्भ चित्र एकत्र किए गये। भारत माता के स्वरूप को बनाया कि भारत माता इस तरह की है। इसी तरह देश के बडे नेताओं के चित्र बनाये गये व घर घर तक पहुंचाये गये जिससे आजादी के आंदोलन को बल मिला, स्वदेशी आंदोलन में भी आर्ट ने बड़ा योगदान दिया। इस मौके पर मुख्य अतिथि ने प्रदर्शनी का अवलोकन किया व सराहना की तथा कहा कि यह स्कूलों के बच्चों को जरूर दिखायी जानी चाहिए ताकि उन्हें आजादी के महत्व का पता लग सके। इस मौके पर विनोद अग्रवाल, सतीश ढौडियाल आदि भी मौजूद रहे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल