मसूरी – पेयजल संकट, स्थानीय लोगों ने किया जल संस्थान कार्यलय में प्रदर्शन, अधिकारियों ने दिया आश्वासन।

मसूरी : विगत एक माह से शहर के चोपड़ासार क्षेत्र में पेयजल की समस्या बनी हुई है जिसको लेकर सोमवार को स्थानीय लोगों ने गढ़वाल जल संस्थान पहुंच कर प्रदर्शन किया और पानी की आपूर्ति को सुचारू करने की मांग की।

उत्तराखंड गढ़वाल जल संस्थान के कार्यलय पहुंचे हुए क्षेत्रवासियों ने आरोप लगाया कि होम स्टे और होटल संचालकों द्वारा पानी की टेपिंग की जाती है जिस कारण उनके घरों तक पानी नहीं पहुंच रहा है। व उनको पेयजल हेतु काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा रहा है, उन्होंने कहा कि पेयजल के लिए उन्हें दूर-दराज जाना पड़ रहा है, जिससे उनके दैनिक कामकाज पर असर पड़ रहा है।

इस अवसर पर स्थानीय निवासी ज्योति थापा ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि वह नाले से पानी लाना व उसे उबाल कर पीने को मजबूर हैं, उन्होंने कहा कि आज जब सरकार हर घर नल, हर नल जल की बात कर रही है ऐसे में चोपडासार में रहने वाले 18 परिवारों को पेयजल के लिए दूरदराज जाना पड़ रहा है। उन्होंने आरोप लगाया है कि वहां होटल और गेस्ट हाउस (होम स्टे) वालों द्वारा पानी की टेपिंग की जाती है जिस कारण उन्हें पानी नहीं मिल पा रहा है, उन्होंने बताया कि उनके छोटे-छोटे बच्चे दूर दूर से पानी ढोकर लाते हैं जिससे उनकी पढ़ाई पर भी असर पड़ रहा है। उन्होंने मांग की है जल संस्थान जल्द ही इस ओर ध्यान दे व पेयजल आपूर्ति ठीक करे।

वहीँ इस संबंध में गढ़वाल जल संस्थान के सहायक अभियंता टी.एस रावत ने बताया कि विभाग द्वारा होटल स्वामियों और होम स्टे (गेस्ट हाउस) स्वामियों का चालान किया गया है, साथ ही क्षेत्रवासियों को शीघ्र पेयजल की सुविधा मुहैया कराई जाएगी जिसके लिए विभागीय कर्मचारियों को स्थलीय निरीक्षण के लिए कहा गया है और वहां पर पाइप लाइन को भी बदल दिया जाएगा जिससे चोपडासार के निवासियों को पानी की समस्या से नहीं जूझना पड़ेगा।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *