मसूरी – गुरू नानक फिफत सेंटेनरी स्कूल का 53वां स्थापना दिवस सांस्कृतिक कार्यक्रमो व पुरूस्कार वितरण के साथ संपन्न।

मसूरी : गुरू नानक फिफत सेंटेनरी स्कूल का 53वां स्थापना दिवस सांस्कृतिक कार्यक्रमों एवं पुरस्कार वितरण के साथ संपन्न हो गया। इस मौके पर प्रदेश के वन एवं तकनीकि शिक्षा मंत्री सुबोध उनियाल ने कहाकि विद्यालय बच्चों की शिक्षा के साथ अनुशासन व चहुमुखी विकास करने व उनकी प्रतिभा को निखारने का भी कार्य कर रहा है।
गुरू नानक फिफत सेंटेनरी स्कूल का 53वां स्थापना दिवस संग्रीला के सभागार में मनाया गया। इस मौके पर स्कूली छात्र छात्राओं ने कार्यक्रम का शुभारंभ शबद कीर्तन की जुगलबंदी से किया। इस मौके पर भगवान गणेश व दुर्गा की कथा पर नृत्य नाटिका की गई, वहीं बच्चों ने हिंदी सिनेमा के स्वर्णयुग के गानों पर नृत्य कर लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। वहीं मदर डे, सेवन इअर्स व अर्जुन की खोजपर हिंदी व अंग्रेजी में लघु नाटिका का प्रदर्शन किया। साथ ही गढवाली नृत्य, गिददा, भांगड़ा आदि मनमोहन कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी गई। इससे पूर्व प्रधानाचार्य अनिल तिवारी ने विद्यालय की वर्ष भर की गतिविधियों व उपलब्धियों पर विस्तार से प्रकाश डाला।

वहीं मुख्य अतिथि प्रदेश के कबीना मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा कि विद्यालय बच्चों की शिक्षा के साथ ही उनके हर तरह के विकास के लिए कार्य कर रहा है उनमें देश भक्ति की भावना भरने के साथ ही खेलकूद, संस्कृति, सहित अन्य गतिविधियों ने प्रतिभाग कर उनमें आत्मविश्वास भरने का कार्य कर रहा है। उन्होंने इसके लिए विद्यालय प्रबंधतंत्र, प्रधानाचार्य व शिक्षकों को इसका श्रेय दिया। इस मौके पर विद्यालय के सचिव एमपी सिंह ने कहा कि विद्यालय के स्थापक सरदारनी स्व. जसबीर कोैर व उनके पुत्र स्व.जसपाल सिंह ने जिस वटवृक्ष को शुरू किया था वह अपने लक्ष्य के साथ आगे बढ रहा है। तथा जिस उददेश्य को लेकर विद्यालय खोला गया था उस दिशा में सभी के सहयोग से आगे बढ़ रहा है। इस मौके पर उन्होंने सभी अतिथियों का आभार व्यक्त किया। इस मौके पर विद्यालय में आर्ट एंड क्राफट सहित अन्य प्रदर्शनी लगाई गई थी जिसका लोगों ने अवलोकन किया व सराहना की।

इस मौके पर विद्यालय के प्रबंधक सुनील बक्शी, हेड मास्टर कुलदीप त्यागी, पूर्व विधायक जोत सिंह गुनसोला, पूर्व पालिकाध्यक्ष मनमोहन सिंह मल्ल, ओपी उनियाल, भाजपा मंडल अध्यक्ष मोहन पेटवाल पालिका सभासद जसबीर कौर, अरविंद सेमवाल, सतीश ढौडियाल, विजय रमोला, डीएफओ आशुतोष सिंह,गुरू सिंह सभा के अध्यक्ष हरभजन सिंह, इद्रजीत सिंह, बलविंदर सिंह, सहित बड़ी संख्या में अतिथि मौजूद रहे।

प्रदेश के कबीना मंत्री सुबोध उनियाल ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि प्रदेश सरकार का स्पष्ठ निर्णय है कि किसी भी घोटाले बाज को नहीं बक्शा जायेगा चाहे व कितना बड़ा अधिकारी क्यों न हो। उन्होंने कहा कि ये घोटाले पहले के हो रखे हैं अब उनके पकड़ने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा पर तंज कसते हुए कहाकि काग्रेस को कांग्रेस जोड़ों यात्रा निकालनी चाहिए ताकि वह खुद जुड़ सके। उन्होंने वन संरक्षण पर कहा कि सरकार इस मामलेे में वनों की सुरक्षा के साथ विकास की पक्षधर हैै जिसके तहत सरकार आम जनता की भागीदारी सुनिश्चित कर इस दिशा में आगे बढ रही है। मसूरी में वन विभाग से संबधित समस्याओं के निस्तारण के लिए एक बैठक करने वाले हैै उसमें वन सरंक्षण अधिनियम को देखते हुए जितनी सुविधा व छूट दी जा सकती है देने का कार्य करेंगे। उसी बैठक में भिलाडू स्टेडियम का भी मामला लाया जायेगा।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल