केम्पटी में पानी की किल्लत से जनता परेशान, आंदोलन की चेतावनी दी।

टिहरी : केम्पटी बाजार व आसपास के क्षेत्र में लगातार चल रही पानी की किल्लत को देखते हुए स्थानीय निवासियों व जनप्रतिनिधियों ने जिलाधिकारी टिहरी व अधिशासी अभियंता जल संस्थान को ज्ञापन देकर पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित करने की मांग की। वहंी चेतावनी दी कि यदि पानी की आपूर्ति शीघ्र सुनिश्चित नहीं की गई तो जनता को आंदोलन करने के लिए बाध्य होना पडे़गा।
जिलाधिकारी को दिए ज्ञापन में कहा गया है कि ग्राम पंचायत सिया केम्पटी व बाजार में जल संस्थान के कर्मचारियों द्वारा पानी का वितरण ठीक न किए जाने के कारण क्षेत्र वासियों को लंबे समय से पानी की किल्लत से जूझना पड़ रहा है। जिन लोगों के घरेलू संयोजन है उन्हें तीन व चार दिन में एक बार पानी मिल रहा है। वहीं केम्पटी में कुछ होटल वालों ने मोटरें लगा रखी है जिस कारण लगातार पानी की कमी हो रही है। ज्ञापन में मांग की गई कि जल संस्थान शीघ्र व्यावसायिक संयोजनों को अलग करे व घरेलू लाइनों को अलग करे ताकि सभी को पानी की आर्पूिर्त हो सके। साथ ही स्थान स्थान पर गेटवाल लगाया जाय ताकि सभी को बराबर पानी मिल सके। इस संबंध में कई बार जल संस्थान सहित शासन प्रशासन को अवगत कराया गया लेकिन समस्या का समाधान नहीं हो पाया। यदि शीघ्र पानी की आपूर्ति सुनिश्चित नहीं होती तो जनता जल संसथान के खिलाफ आंदोलन करने को बाध्य होगी। स्थानीय निवासी सुरेंद्र रांगड का कहना है कि जल संस्थान ने एक ही लाइन से घरेलू व व्यावसायिक संयोजन दिए है जिसके चलते होटल वाले मोटर लगाकर सारा पानी खींच लेते हैं व घरेलू उपभोक्ताओं को पानी नही मिल पाता, उन्होंने कहा कि विभाग को व्यावसायिक व घरेलू लाइने अलग करनी चाहिए।

इस संबंध मेंसहायक अभियंता जल संस्थान अरविंद सजवाण का कहना है कि क्षेत्र की समस्या से वह अवगत है फिलहाल परेशानी को देखते हुए टैंकरों से पानी दिया जा रहा है और शीघ्र ही व्यवसायिक संयोजनों व घरेलू उपभोक्ताओं के लिए अलग लाइन बिछायी जायेगी। ताकि समस्या का समाधान हो सके।

ज्ञापन देने वालों में उद्योग व्यापार मंडल केम्पटी, ग्राम प्रधान सिया, सदस्य क्षेत्र पंचायत बग्लों की कांडी, विक्रम सिंह, सुरेंद्र सिहं, विजय सिंह, रैपाल सिंह, रामपाल सिंह, महावीर सिंह, विजय सिंह, आदि हैं।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *