ग्राम्य विकास मंत्री गणेश जोशी ने पीएमजीएसवाई से निर्मित होने वाली पुरुकुल-किमाड़ी मोटर मार्ग का किया निरीक्षण, अधिकारियों को लगाई फटकार।

देहरादून : सुबे के ग्राम्य विकास मंत्री गणेश जोशी ने वीरवार को देहरादून के पुरुकुल-किमाड़ी मोटर मार्ग का निरीक्षण किया। ग्रामीणों की कई शिकायतों के बाद मंत्री ने अधिकारियों को फटकार लगाई और मौके पर उपस्थित अधीक्षण अभियंता को साईट इंचार्ज कनिष्ठ अभियंता से स्पष्टीकरण तलब करने के निर्देश दिये।
ग्राम्य विकास मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का संकल्प है कि 250 तक की बसावटों को मुख्य सड़क से जोड़ा जाए ताकि ग्रामीणों को इसका लाभ मिला। उन्होंने केन्द्र सरकार का आभार प्रकट करते हुए कहा कि हमें केन्द्र से विशेष सहयोग प्रदान किया है। हमें पिछले दो वर्षो में 112 सड़कों के लिए लगभग दो हजार करोड़ की धनराशि उपलब्ध हुई है।

निरीक्षण के दौरान ग्राम्य विकास मंत्री ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि सड़क कटान के दौरान जहां पर सुरक्षात्मक कार्य एवं तारजाल लगाना आवश्यक हो, ऐसे स्थान पर आवश्यक रुप से सुरक्षात्मक कार्य एवं तारजाल जाए। उन्होंने कहा कि खेतों में मिट्टी न डाले और सड़क निर्माण के दौरान क्षतिग्रस्त पेयजल लाईनों को तत्काल दुरुस्त करने के निर्देश दिये। मंत्री ने बताया कि लगभग 14 करोड़ की लागत से मोटर मार्ग एवं 2.85 करोड़ की लागत से पुल बनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि एससीपी के माध्यम से भी भितरली गांव में कई कार्य हुए हैं। मंत्री से मुलाकात के दौरान ग्रामीण महिलाओं ने कहा कि पिछले लम्बे समय के बाद हमने गांव में विकास देखा है। उन्होंने इस बाबत काबीना मंत्री का आभार प्रकट किया। काबीना मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि मैं पुनः 07 जुलाई को इस सड़क का दौरा करुंगा, तब तक सभी खामियों को दूर किया जाए।

इस अवसर पर जिला पंचायत उपाध्यक्ष दीपक पुण्डीर, पीएमजीएसवाई के अधीक्षण अभियंता अरुण नेगी, ईई हिमांशु श्रीवास्तव, मदन सिंह, अन्नू पुंडीर, सोबन सिंह, भरत सिंह पुंडीर, ग्राम प्रधान राधेश्याम जुयाल, महेंद्र पुंडीर, जयराम सिंह, संदीप पुंडीर, नीरज पुंडीर, योगेश बिष्ट आदि उपस्थित रहे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल