स्थापना दिवस पर BJP मसूरी मंडल द्वारा आयोजित की गई संगोष्ठी, राज्य आंदोलनकारी किए गए सम्मानित।

राज्य स्थापना दिवस पर पालिका सभासद गीता कुमाई ने राज्य स्थापना की 22वीं वर्ष गांठ पर भंडारे का आयोजन किया गया जिसमें बड़ी संख्या में लोगों ने पहले शहीदों की प्रतिमा व चित्रों पर पुष्पाजंलि अर्पित की व उसके बाद भंडारे का आनंद लिया। वहीं भाजपा मसूरी मंडल की ओर से शाम को शहीद स्थल पर दिए व मोमबत्तियां जला कर शहीदों को याद किया गया।

मसूरी : उत्तराखंड राज्य गठन के 22 वर्ष पूर्ण होने पर भाजपा मसूरी मंडल द्वारा एक होटल के सभागार में उत्तराखंड राज्य आंदोलन में अपनी अहम भूमिका निभाने वाले राज्य आंदोलनकारियों को सम्मानित किया गया। इस दौरान आंदोलन के दिनों को याद कर जय बद्री जय केदार उत्तराखंड की हो सरकार के नारे भी लगाए गए और राज्य आंदोलनकारियों ने अपने संस्मरण भी सुनाए उन्हें याद कर भाव विभोर हो उठे।
राज्य स्थापना दिवस पर आयोजित संगोष्ठी में बतौर मुख्य अतिथि राज्यसभा सांसद नरेश बंसल ने राज्य निर्माण में शहीद हुए आंदोलनकारियों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि उत्तराखंड राज्य आंदोलन किसी भी व्यक्ति विशेष के नेतृत्व में नहीं लड़ा गया बल्कि पहाड़ से लेकर मैदान तक सभी लोगों का इसमें योगदान रहा। साथ ही आंदोलन के दौरान पुलिस द्वारा की गई बर्बरता को याद कर राज्य आंदोलनकारियों के ज़ख्म भी ताजा किए गये। उन्होंने राज्य निर्माण में अहम भूमिका निभाने वाले आंदोलनकारियों को सम्मानित करते हुए कहा कि पृथक राज्य उत्तराखंड उन शहीदों की बदौलत मिला है जिन्होंने अपना सर्वस्व न्योछावर किया। इस स्वतः स्फूर्त आंदोलन को तत्कालीन भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुरली मनोहर जोशी ने राज्य आंदोलन का समर्थन किया जिसके साथ ही भाजपा भी इस आंदोलन में कूदी व प्रधानमंत्री बनने के बाद 26 दलों की सरकार होने के बावजूद उत्तराखंड राज्य का निर्माण किया व औद्योगिक पैकेज भी दिया। उन्होंने कहाकि राज्य के निर्माण के बाद जितनी भी सरकारें आयी उन्होंने राज्य के विकास को अपने स्तर से आगे बढाया राज्य तेजी से विकास की ओर अग्रसर हुआ। लेकिन आज भी राज्य आंदोलनकारियों से सपनों का उत्तराखंड नहीं बन पाया जिसका डबल इंजन की सरकार लगातार प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री व देश के प्रधानंमत्री नरेंद्र मोदी उत्तराखंड के विकास के लिए लगातार योजनाएं बना रहे हैं व उसको धरातल पर उतार रहे हैं। प्रधानमंत्री का उत्तराखंड से विशेष लगाव होने के कारण हर क्षेत्र में विकास गति पकड़ रहा है। वहीं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में सरकार लगातार राज्य के विकास के लिए कार्य कर रही है। व अहम फैसले ले रहीे है। प्रदेश में जीरो टॉलरेंस की सरकार है तथा घोटाला करने वालों को कड़ी सजा दे रही है जिसमें आईएएस, पीसीएस हो या कोई बड़ा नेता किसी को भी नहीं बक्श रही है। राज्य में रोड़ हवाई, व रेल से जोडने का प्रयास किया जा रहा है ताकि पर्यटक यहां आयें। होम स्टे योजना चलाई जा रही है ताकि दूरस्थ क्षेत्र का भी विकास हो सके। प्रधानमंत्री ने कहा कि यह शताब्दी भारत की है और यह दशक उत्तराखंड का है इस चुनौती के साथ कार्य करना होगा। प्रदेश के मुख्यमंत्री विकल्प रहित संकल्प के साथ कार्य कर रही है व 2025 में उत्तराखंड देश के अग्राणी राज्य बनाने का प्रयास किया जा रहा है। देश के अंदर पहला राज्य होगा जहां समान नागरिक संहिता लागू होगी। भूकानून के लिए सख्त कानून बनाया जा रहा है। इससे पूर्व कार्यक्रम के संयोजक भाजपा जिला महामंत्री रतन सिंह चौहान ने कार्यक्रम के बारे में विस्तार से बताया कि पूरे प्रदेश में राज्य स्थापना दिवस पर संगोष्ठी आयोजित की जा रही है। इससे पूर्व राज्य सभा सांसद नरेश बंसल ने शहीद स्थल पर जाकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी। कार्यक्रम का संचालन महामंत्री कुशाल राणा ने किया।

इस मौके पर भाजपा महिला मोर्चा अध्यक्ष पुष्पा पडियार, सतीश ढौडियाल, पालिका सभासद मदन मोहन शर्मा, अरविंद सेमवाल, अनीता सक्सेना, अनीता पुंडीर, कमला थपलियाल, राजश्री रावत, कमल शर्मा, राजेश गुप्ता, राकेश ठाकुर विजय बिंदवाल, विजय रमोला, अमित भटट, अनीता धनाई, निधि बहुगुणा, सहित बड़ी संख्या में भाजपा पदाधिकारी, कार्यकर्ता व राज्य आंदोलनकारी मौजूद रहे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल