वन विभाग ने विद्यालय के छात्र/छात्राओं को दिया गौरया संरक्षण का प्रशिक्षण।

रिपोर्ट – अरविन्द थपलियाल

नौगांव/ उत्तरकाशी : अपर वन यमुना प्रभाग बड़कोट के मुंगरसन्ति रेंज में गौरया प्रजाति के संरक्षण के लिये छात्र/छात्राओं को प्रशिक्षण दिया गया,वन विभाग ने नौगांव के जूनियर हाईस्कूल धारी वल्ली में गौराया संरक्षण के लिये छात्र /छात्राओं को प्रशिक्षण दिया गया।
वन क्षेत्राधिकारी शेखर राणा ने बताया कि देश में गौरया कि घटती संख्या ने वन विभाग चितिंत है और इस प्रपेक्ष में छात्र/छात्राओं को जागरूक किया गया वहिं राणा ने यह भी बताया कि इसका मुख्य कारण पलायन है और जिससे गौरया को स्थान नहीं मिल पा रहा है।स्कूली छात्रों को घरेलू डिस्पोज पदार्थों का संरक्षण बनाने का प्रशिक्षण दिया गया।
उलेखनिय है कि पर्यावरण की मौजूदा हालात को देखते हुये गौरया ही नहि अन्य प्रजातिया भी विलुप्तिकरण की कगार पर जिससे वन्य जीव विभाग बेहद चिंतित है।
विभाग गौरया दिवस पर उन छात्र/छात्राओं को सम्मानित करेगा जो बेहतर कार्य करेगा।
वन विभाग ने अब एक मुहिम को जन जागरूकता के लिये घर घर पंहुचाने का प्रयास किया है जिससे गौरया सहित अन्य प्रजातियों के पक्षियों की संख्या में सुधार आ सके।
जागरूकता प्रशिक्षण कार्यक्रम में विद्यालय के शिक्षक,वन दरोगा वलदेव चौहान,श्रीमति प्रियंका रावत सहित छात्र/छात्रायें मौजूद रही।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *