दो दिवसीय उत्तराखंड पुलिस उत्सव कार्यक्रम का शुभारंभ।

विनय उनियाल

जोशीमठ : उत्तराखंड पुलिस ने इन दिनों प्रदेश के सीमांत क्षेत्रों में निवास कर रहे लोगों से जुड़ने का बीड़ा उठाया हुआ है। पुलिस प्रशासन उत्तराखंड पुलिस बॉर्डर विकास उत्सव कार्यक्रम के माध्यम से सीमांत क्षेत्रों में निवास कर रहे लोगों के समक्ष पहुंच रहा है।

शनिवार को चमोली पुलिस द्वारा जिले की सीमांत मलारी घाटी में उत्तराखंड पुलिस बॉर्डर विकास उत्सव का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ चमोली पुलिस अधीक्षक ने किया। कार्यक्रम का शुभारंभ बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे ब्लाक प्रमुख हरीश परमार ने किया स्थानीय महिलाओं ने पारंपरिक वेशभूषा धारण कर स्वागत गीत के साथ अतिथियों का स्वागत किया। घाटी के युवाओं ने क्रिकेट,वॉलीबॉल,चैस, कैरम आदि कई खेलों में प्रतिभाग कर खेलों का आनंद लिया। इस दौरान पुलिस और जिले के कई अन्य विभागों द्वारा प्रदर्शनी लगाकर ग्रामीणों को जानकारियां भी दी गई। एसडीआरएफ और अग्निशमन विभाग द्वारा किए जाने वाले राहत बचाव कार्य की जानकारियां और सूक्ष्म प्रशिक्षण भी दिया गया। एसपी चमोली यशवंत सिंह चौहान ने बताया कि इस कार्यक्रम में ग्रामीणों ने बढ़-चढ़कर प्रतिभाग किया है। और ग्रामीणों को कई प्रकार की जानकारियां भी दी गई है। उन्होंने कहा कि शनिवार को शुरू हुए इस दो दिवसीय कार्यक्रम का रविवार को समापन किया जाएगा। स्थानीय ग्रामीणों ने पुलिस प्रशासन का आभार व्यक्त करते हुए आगे भी इस प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन होने की आशा जताई है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल