मसूरी – सड़कों की खराब दशा 20 अप्रैल तक न सुधरी तो 20 अप्रैल को भूख हड़ताल व प्रदर्शन।

मसूरी : मसूरी ट्रेडर्स एंड वेलफेयर एसोसिएशन ने एसडीएम को ज्ञापन देकर मसूरी की विभिन्न सड़कों की खस्ता हालात को शीघ्र सुधारीकरण करने की मांग की है ताकि आगामी सीजन में पर्यटकों का स्थानीय नागरिकांे को परेशानी न हो।
ज्ञापन में कहा गया कि मसूरी की अधिकांश सडके खस्ता हाल हैं, ख़ासकर मसूरी की माल रोड़ जहां पर जीर्णाेद्धार का कार्य लंबे समय से प्रगति पर है। उसमें भी विलंब हो रहा है। मुख्य सचिव की बैठक में सभी विभागों द्वारा जिसमें लोक निर्माण विभाग उत्तराखंड, पेयजल निगम, उत्तराखंड जल संस्थान, उत्तराखंड विद्युत विभाग आदि द्वारा ये आश्वस्त किया गया था कि समस्त कार्य, पर्यटक सीजन के प्रारंभ होने से पहले 20 अप्रैल 2023 तक कर दिये जायेंगे। परंतु बहुत ही अफसोस की बात है कि माल रोड के अधिकांश कार्य अधर में लटके हैं और पूरे होने की दूर दूर तक उम्मीद नहीं है। रोड में आने वाले मेन हॉल के चैम्बर, सर्विस लाइन का कार्य, रोड का रखरखाव, हवा घर का रखरखाव, रेलिंग का रखरखाव, कॉबिलिंग की शुरूआत, नालियों के ऊपर की जाली, जगह जगह मलबे के ढेर, पूर्व की तरह है। इस लापरवाही से मसूरी के नागरिक, व्यापारी और पर्यटक परेशान है और मसूरी की छवि भी खराब हो रही है। एसोशिएषन ने चेतावनी दी है कि यदि यह कार्य आगामी 20 अप्रैल 2023 तक पूरे नहीं किए गये तो ऐसी स्थिति में समस्त नागरिक और व्यापारी 20 अपैल से आंदोलन करेगें व एक दिवसीय विरोध प्रदर्शन व भूख हड़ताल करने को बाध्य होगें। जिसके तहत 20 अप्रैल को गांधी चौक पर, प्रातः दस बजे से शाम छह बजे तक प्रदर्शन व भूख हड़ताल की जायेगी। ज्ञापन देने वालों में एसोसिएशन के अध्यक्ष रजत अग्रवाल, महामंत्री जगजीत कुकरेजा, नागेंद्र उनियाल, अतुल अग्रवाल, रमन अरोड़ा मनोज अग्रवाल, राजकुमार, शाहिद, सलीम अहमद आदि थे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

सोशल मीडिया वायरल