पुलिस अधीक्षक चमोली ने मासिक अपराध गोष्ठी में की अपराधों की समीक्षा, लंबित विवेचनाओं को शीघ्र निस्तारित करने के दिए निर्देश।

विनय उनियाल

गोपेश्वर : पुलिस अधीक्षक चमोली म द्वारा पुलिस लाईन गोपेश्वर में जनपद के समस्त राजपत्रित अधिकारीगणों, समस्त थानाध्यक्षों, शाखा प्रभारियों व अन्य अधिकारी/कर्मचारी गणों के साथ मासिक अपराध गोष्ठी/सम्मेलन का आयोजन किया गया। पुलिस अधीक्षक द्वारा प्रत्येक थानों/शाखाओं से आये सभी कर्मचारियों का सम्मेलन लेकर उनकी समस्यायें पूछी गई, कर्मचारियों द्वारा बताई गई समस्या का त्वरित निवारण हेतु सम्बन्धित को निर्देशित किया गया
मासिक अपराध गोष्ठी में मुख्यतः निम्न बिन्दुओं पर चर्चा कर कार्यवाही हेतु सम्बन्धित को दिशा-निर्देश निर्गत किये गये। थानों में लम्बित विवेचनाओं की समीक्षा कर सम्बन्धित थाना प्रभारी/विवेचकों को शीघ्र निस्तारण करने व सम्मन/वारंट/नोटिस का ससमय निस्तारण किये जाने/अभियोगों में वांछित अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी किये जाने हेतु कड़े निर्देश दिये गये।सभी थाना प्रभारियों को प्रभावी अपराध नियंत्रण सहित पुलिस मुख्यालय से प्राप्त दिशा-निर्देशों के तहत जनपद स्तर पर चलाए जा रहे अभियानों में रुचि लेकर प्रभावी कार्यवाही करने व थाना/चौकी क्षेत्रों में रह रहे बाहरी व्यक्तियों का डोर टू डोर शत प्रतिशत सत्यापन कराने/सड़क दुर्घटनाओं पर प्रभावी अंकुश लगाये जाने हेतु यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले एवं शराब पीकर वाहन चलाने वाले/ओवरलोड/ओवर स्पीड/ड्राइविंग एवं बिना हेलमेट व तीन सवारी बैठाकर वाहन चलाने वालों पर सख्त कार्यवाही के भी निर्दश दिये गये।
दुर्घटना सम्भावित स्थलों को चिन्हित कर इन स्थानों पर साईन बोर्ड लगाये जायें तथा इन स्थानों पर सुधारीकरण की कार्यवाही हेतु सम्बन्धित विभाग से समन्वय कर सुधारीकरण की कार्यवाही करायी जाये।
आगामी वर्ष की चारधाम यात्रा व ग्रीष्मकालीन विधानसभा सत्र गैरसैंण के निर्बाध व सफलतापूर्वक चलाए जाने को लेकर अभी से तैयारियां करने होटल, टैक्सी, आदि यूनियनों के पदाधिकारियों से बैठक आयोजित कर वार्ता करने संबंधी महत्वपूर्ण दिशा-निर्देश निर्गत किए गए।
महिला सुरक्षा के प्रति सजग एवं गंभीर रहते हुए किसी भी शिकायत पर त्वरित कार्यवाही करते पीड़ित महिला को तत्काल हरसंभव सहायता प्रदान करने व उत्तराखण्ड पुलिस एप के गौरा शक्ति ई-कम्पलेन के बारे में कामकाजी महिलाओं के लिए जनपद स्तर पर चलाये जा रहे अभियान को और अधिक प्रभावी बनाने व महिलाओं को इसके उपयोग के बारे में विस्तृत जानकारी देने हेतु निर्देशित किया गया। साइबर अपराध, महिला सुरक्षा/महिला, अपराध/बाल, अपराध/मानव, तस्करी आदि अपराधों की रोकथाम हेतु अपने-अपने थाना क्षेत्रान्तर्गत नगरों, कस्बों, गावों व स्कूल कालेजों में अधिक से अधिक जागरुकता कार्यक्रम चलाकर महिलाओं/छात्र छात्राओं को उनके अधिकारों व कानून की जानकारी प्रदान करते हुए
नशा मुक्त अभियान को और अधिक प्रभावी बनाने के लिए स्कूल/कालेजों में अभियान चलाकर जागरूक किये जाने व नशे के आदि व्यक्तियों को सप्ताह में कम से कम 02 बार थाने में बुलाकर उनकी काउंसिलिंग करने व उन पर निरंतर नजर रखने हेतु निर्देशित किया गया। समस्त क्षेत्राधिकारी एवं थाना प्रभारियों को अपने-अपने सर्किल एवं थाना क्षेत्रों के दूरस्थ चौकियों की नियमित रुप से चेकिंग करने, स्वंय रात्रि गश्त को ब्रीफ कर रवाना करने हेतु निर्देशित किया गया।
राजस्व क्षेत्र से स्थानांतरित हुयी विवेचनाओं तथा थाना स्तर पर कायम मुकदमों की विवेचनाओं को प्राथमिकता के आधार पर निस्तारित किया जाए।गुमशुदा बच्चों तथा महिलाओं के संबंध में गंभीरता लेकर नियमानुसार गुमशुदगी दर्ज करें।मफरूर एवं ईनामी अपराधियों की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु टीम गठित कर नियमानुसार कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया।
विगत माह में अपनी ड्यूटी के दौरान सराहनीय एवं उत्कृष्ट कार्य करने वाले पुलिस कर्मियों 01- उ0नि0 लक्ष्मी प्रसाद बिजल्वाण – कोतवाली चमोली 2-कानि0 हरेन्द्र – कोतवाली चमोली 3- हे0का0 मनमोहन भण्डारी- एसओजी 4- कानि0 संजय बलूनी- एसओजी 5- कानि0 राजेन्द्र रावत- सर्विलांस सैल को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया व आगे भविष्य में भी अच्छा कार्य करने वाले पुलिसकर्मी पुरस्कृत किये जायेंगे।

अपराध गोष्ठी में पुलिस उपाधीक्षक चमोली प्रमोद शाह, पुलिस उपाधीक्षक कर्णप्रयाग अमित सैनी, निरीक्षक अभिसूचना इकाई सचिन चौहान, प्रतिसार निरीक्षक रविकान्त सेमवाल, निरीक्षक संचार जितेन्द्र भण्डारी, वाचक उपनिरीक्षक विजय प्रकाश थाना एवं शाखा प्रभारी/अन्य कर्मचारी गण मौजूद रहे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *