हत्या व गैंगरेप में वाँछित व 6 वर्षों से फरार 50 हजार रुपये का ईनामी अभियुक्त देहरादून से गिरफ्तार।

मसूरी : मसूरी देहरादून मार्ग पर चूना खाला के समीप एक महिला से गैंग रेप करने वाले ईनामी अभियुक्त को पुलिस ने देहरादून से गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में नौ आरोपी थे जिसमें से सात पहले ही पकड़े जा चुके है व एक हो हाल ही में पकड़ा गया व आखिरी आरोपी को देहरादून से गिरफ्तार कर लिया गया है। मालूम हो कि चूना खाला से करीब 2 किमी जंगल में पेड़ पर लटका हुआ अज्ञात महिला जिसका चेहरा झुलसा हुआ था का शव बरामद हुआ था। प्रथमदृष्टया हत्या की आशंका नजर आय़ी। पुलिस ने शव की पहचान पुरोला उत्तरकाशी निवासी के रूप में की। पुलिस ने वर्ष 15 सितंबर 2017 को कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया व धारा 302, 201 में अपराध दर्ज किया। विवेचना सें प्रकाश में आया कि उक्त महिला के साथ सामुहिक बलात्कार के बाद गला दबाकर हत्या, साक्ष्य छुपाने हेतु तेजाब डालकर पहचान छुपाने का प्रयास किया गया था। जिस पर पुलिस ने विवेचना के बादं धारा 302/201भादवि के अतिरिक्त 376घ /326, क /34 भादवि व 2/3 एससी /एसटी एक्ट की बढ़ोत्तरी करते हुए घटना के बाद फरार कुल 09 अभियुक्तों के विरुद्ध आरोप पत्र न्यायालय प्रेषित किया गया। जिनमें अब तक 8 अभियुक्तों को भिन्न भिन्न स्थानों से गिरफ्तार कर न्यायालय पेश किया जा चुका है। शेष एक अभियुक्त  जयकरण भगत पुत्र राम लक्ष्मण भगत बहुत प्रयासों के बाद भी अपनी गिरफ्तारी से बचे हुए थे तथा न्यायालय में उपस्थित नही हो रहा था। जिनके विरुद्ध न्यायालय द्वारा गैर जमानती वारण्ट व धारा 82/83 द0प्र0सं0 के नोटिस जारी थे। अभियुक्त जयकरण लगातार फरार चल रहा था। जिनके विरुद्ध परिक्षेत्रीय अधिकारी गढ़वाल द्वारा 50 हजार का पुरुस्कार घोषित किया गया था। वर्तमान में पुलिस महानिदेशक उत्तराखण्ड द्वारा गम्भीर अपराधों में पुरुस्कार घोषित अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु अभियान गतिमान किया गया। जिस पर उच्चाधिकारियों ने मार्गदर्शन में प्रभारी निरीक्षक मसूरी द्वारा टीम गठित की गयी। उक्त गठित टीम द्वारा अभियुक्त जयकरण भगत निवासी लक्ष्मीपुर थाना सहियारा जिला सीतामड़ी बिहार के मस्कन सम्भावित स्थानों पर दबिशें दी गयी। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने ईनामी अभियुक्त जयकरण भगत को जनपद देहरादून की सीमा से गिरफ्तार किया गया। अभियुक्त को न्यायालय में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है। पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक मसूरी दिग्पाल सिंह कोहली कोतवाली मसूरी, वरिष्ठ उपनिरीक्षक गुमान सिंह नेगी, उनि शोएब अली, कांस्टेबल धर्मेन्द्र सिंह व जन्मेजय राणा कोतवाली मसूरी थे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *